Home » सीएम बघेल ने की सट्टेबाजी एप पर बैन लगाने की मांग, पीएम को लिखा पत्र, कहा- सेंट्रल से हो कार्रवाई

सीएम बघेल ने की सट्टेबाजी एप पर बैन लगाने की मांग, पीएम को लिखा पत्र, कहा- सेंट्रल से हो कार्रवाई

by Bhupendra Sahu

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा है। इस बार उन्होंने देशभर में फल फूल रहे ऑनलाइन बेटिंग ऐप व सट्टेबाजी पर बैन लगाने की मांग की है। उन्होंने पत्र के माध्यम से कहा है कि ऑनलाइन बेटिंग ऐप व सट्टेबाजी पर केन्द्रीय स्तर पर कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने पत्र में लिखा कि बीते कई सालों से ऑनलाइन बेटिंग, गेमिंग के माध्यम से जुआ और सट्टा के कारोबार का देश व्यापी विस्तार हुआ है। इसके संचालक विदेश में अवैध कारोबार का संचालन करते आ रहे हैं। इस पर केंद्र स्तर कार्रवाई ही संभव है।

सीएम बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ सरकार और यहां की पुलिस प्रशासन शुरू से ही इस अवैध कारोबार पर कठोर कार्रवाई करते आ रही है। इस संबंध में कई अपराध भी दर्ज किए गए हैं और संलिप्त आरोपियों को पकड़कर उनके परिसंपत्तियों जब्त करने में भी सफलता मिली है। उन्होंने पत्र में लिखा कि इस मार्च 2022 से अब तक 90 से अधिक आपराधिक प्रकरण इस संबंध में छत्तीसगढ़ पुलिस ने दर्ज किये हैं, जिनमें 450 से अधिक आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, बैंक खातों में 16 करोड़ रूपये फ्रीज करवाये जा चुके हैं। कई लैपटॉप, मोबाईल फोन जब्त किये जा चुके हैं। प्रमुख आरोपियों के विरुद्ध लुक आउट सर्कुलर जारी किया जा चुका है। देश के विभिन्न राज्यों में भी जाकर छत्तीसगढ़ पुलिस ने कार्यवाही की है। जबकि इनका संचालन छत्तीसगढ़ से नहीं होता।

RO 12737/ 72

छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा 80 ऑनलाईन गेमिंग प्लेटफार्म / यूआरएल /लिंक/एपीके को निलंबित करने के लिये इलेक्ट्रिॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार को पत्राचार भी किया गया है। गूगल से पत्राचार करके इस अवैध कारोबार में संलिप्त ‘महादेव एप’ को प्ले स्टोर से रिमूव्ह करवाया गया है। हाल ही में इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार द्वारा महादेव बुक सहित 22 अवैध बेटिंग एप्स और वेब साईट्स पर प्रतिबंध लगाया गया है। इस संबंध में ध्यान योग्य बात यह है कि यह अवैध कारोबार कई अंतर्राष्ट्रीय/देशीय मोबाइल नम्बरों, मेल आईडी., टेलीग्राम, वॉट्सएप, यूआरएल लिंक, इंस्टाग्राम, ए.पी.के. फाईल आदि के माध्यम से भी संचालित होता है।

सीएम भूपेश बघेल ने अपने पत्र में लिखा कि कारोबार में उपयोग किए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, टेलीग्राम, व्हाट्सएप, यूआरएल लिंक, इंस्टाग्राम और एपीके फाइल इन सभी का पहचान कर इन्हें प्रतिबंधित करवाया जाए। ऑनलाइन बेटिंग, जुआ और सट्टा कारोबार संचालित करने वाले लोगों की आपराधिक कार्य प्रणाली का विस्तार किया जाए क्योंकि यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हो गया है। इस कारोबार को रोकने के लिए निवारण उपाय किए जाने की सख्त आवश्यकता है। इसके साथ ही आरोपियों के बैंक खातों में अवैध परिचालन का तत्काल रोक लगाना चाहिए, जो केंद्र स्तर पर किया जाना संभव है।

सीएम बघेल ने आगे कहा है कि ऑनलाईन बेटिंग/जुआ/सट्टा कारोबार संचालित करने वाले लोगों की आपराधिक कार्यप्रणाली का विस्तार चूंकि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हो गया है तथा वे अत्याधुनिक सूचना प्रौद्योगिकी तकनीकों एवं प्लेटफार्म का प्रयोग कर अपराध कर रहे हैं। अब तक हुए जांच से इन अवैध कारोबारियों की पूरी कार्यप्रणाली जांच एजेंसियों के संज्ञान में आ चुकी है। इसलिए प्रत्येक स्तर पर इनके कारोबार को रोकने के लिये निवारक उपाय किये जाने की सख्त आवश्यकता है, इसके अंतर्गत आरोपियों द्वारा प्रयुक्त बैंक खातों के अवैध परिचालन को तत्काल रोके जाने हेतु कदम उठाये जाने चाहिये जो केन्द्र के स्तर पर किया जाना संभव है। यह अपरिहार्य हो गया है कि केन्द्र सरकार अपनी शक्तियों का प्रयोग करते हुए इस दिशा में सम्यक कार्यवाही करे तथा इन पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाये ताकि देश के करोड़ों लोगों को इस अवैध कारोबार के शिकंजे में फंसने से बचाया जा सके।

Share with your Friends

Related Articles

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More