Home » अंतर्राष्ट्रीय जलवायु कोष तत्काल जुटाने की आवश्यकता: भूपेन्द्र यादव

अंतर्राष्ट्रीय जलवायु कोष तत्काल जुटाने की आवश्यकता: भूपेन्द्र यादव

by Bhupendra Sahu

नई दिल्ली । केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेन्द्र यादव ने उद्योग परिवर्तन के लिए नेतृत्व समूह के दूसरे चरण के तीन स्तंभों की घोषणा की।

संयुक्त अरब अमीरात में सीओपी28 में भारत और स्वीडन द्वारा आयोजित लीडआईटी शिखर सम्मेलन 2023 को संबोधित करते हुए और दुनिया और उद्योग जगत के नेताओं के लिए लीडआईटी के अगले चरण को पेश करते हुए, श्री यादव ने कहा कि चरण II को तीन स्तंभों पर विकसित किया गया है, इनमें संवाद के लिए एक वैश्विक मंच; प्रौद्योगिकी हस्तांतरण और सह-विकास; और उद्योग परिवर्तन मंच शामिल है।

RO 12737/ 72

मंत्री ने वैश्विक साझेदारी को बढ़ावा देने में अग्रणी भूमिका निभाने के लिए लीडआईटी को श्रेय दिया और कहा कि लीडआईटी नेतृत्व के एक प्रतीक के रूप में उभरकर सामने आया है, जो सहयोग को बढ़ावा देने और सार्थक परिवर्तन लाने के लिए उद्योग जगत के अग्रदूतों, विशेषज्ञों और हितधारकों को एक साथ लेकर आता है।

Share with your Friends

Related Articles

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More