Home » छत्तीसगढ़ को मिला पहला आदिवासी मुख्यमंत्री… विधायक दल ने विष्णुदेव साय को चुना नेता

छत्तीसगढ़ को मिला पहला आदिवासी मुख्यमंत्री… विधायक दल ने विष्णुदेव साय को चुना नेता

by Bhupendra Sahu

रायपुर । भाजपा विधायक दल की बैठक ख़त्म हो गई है, और इस बैठक के बाद छत्तीसगढ़ को पहला आदिवासी मुख्यमंत्री मिल गया है। प्रदेश के आदिवास नेता और पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय राज्य के नए मुख्यमंत्री होंगे। भाजपा ने इसकी घोषणा कर दी है। रविवार को प्रदेश भाजपा मुख्यालय कुशाभाउ ठाकरे परिसर में विधायकों के साथ मीटिंग के बाद इसका ऐलान किया गया है।

बता दें कि आज दोपहर 12 बजे से विधायक दल की मीटिंग रखी गई थी। मीटिंग में आज सुबह आए आब्जर्बर सर्वानंद सोनोवाल, अजुर्न मुण्डा, दुष्यंत कुमार गौतम और प्रदेश प्रभारी ओम माथुर, सह प्रभारी नितिन नबीन, चुनाव सहप्रभारी मनसुख मांडविया, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अरुण साव, पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह भी मौजूद रहे। खबर लिखे जाने तक इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है।

RO 12737/ 72

विष्णुदेव साय : पंच से मुख्यमंत्री का सफर…
विष्णुदेव राय छत्तीसगढ़ की कुनकुरी इलाके के कांसाबेल से लगे बगिया गांव के रहने वाले मूलत: किसान हैं। राज्य में आदिवासी समुराय की आबादी सबसे अधिक है और वे इसी समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं। उनकी गिनती रमन सिंह के करीबी लोगों में होती है। 1989 में अपने गांव बगिया से पंच पद से राजनीतिक जीवन की शुरुआत करने वाले विष्णुदेव साय 1990 में निर्विरोध सरपंच निर्वाचित हुए थे। इसके बाद तपकरा से विधायक चुनकर 1990 से 1998 तक वे मध्यप्रदेश विधानसभा के सदस्य रहे। इसके बाद 1999 में वे 13 वीं लोकसभा के लिए रायगढ़ लोकसभा क्षेत्र से सांसद निर्वाचित हुए। इसके बाद भाजपा ने उन्हें 2006 में पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया। इसके बाद 2009 में 15 वीं लोकसभा के लिए हुए चुनाव में वे रायगढ़ लोकसभा क्षेत्र से फिर से सांसद बने। इसके बाद 2014 में 16 वीं लोकसभा के लिए वे फिर से रायगढ़ से सांसद बने। इस बार केंद्र में मोदी की सरकार ने उन्हें केंद्रीय राज्यमंत्री, इस्पात खान, श्रम, रोजगार मंत्रालय बनाया। वे 27 मई 2014 से 2019 तक इस पद पर रहे। पार्टी ने 2 दिसंबर 2022 को उन्हें राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य और विशेष आमंत्रित सदस्य बनाया। इसके बाद विष्णुदेव साय 8 जुलाई 2023 को भाजपा ने राष्ट्रीय कार्यसमिति का सदस्य बनाया। विष्णुदेव साय 2020 में भी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष रहे हैं। सांसद और केंद्रीय मंत्री भी रहे हैं। संघ के करीबी नेताओं में उनकी गिनती होती है। विष्णुदेव साय की इसी मजबूत प्रोफाइल की वजह से उन्हें पार्टी ने सबसे बड़ा पद दिया है।

Share with your Friends

Related Articles

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More