Home » अगर केंद्र ने सात दिन में बंगाल का बकाया नहीं दिया तो विरोध प्रदर्शन शुरू करेंगे: Mamata Banerjee

अगर केंद्र ने सात दिन में बंगाल का बकाया नहीं दिया तो विरोध प्रदर्शन शुरू करेंगे: Mamata Banerjee

by Bhupendra Sahu

 

केंद्र पर राज्य का पीएमएवाई के तहत 9,330 करोड़ रुपये, मनरेगा के तहत 6,900 करोड़ रुपये, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत 830 करोड़ रुपये, पीएम ग्राम सड़क योजना के तहत 770 करोड़ रुपये, स्वच्छ भारत मिशन के तहत 350 करोड़ रुपये बकाया है
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख ममता बनर्जी ने शुक्रवार को केंद्र को सभी बकाया राशि का भुगतान करने के लिए सात दिन का ‘अल्टीमेटम’ देते हुए कहा कि ऐसा न होने की स्थिति में पार्टी बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन शुरू करेगी।
बनर्जी ने यह टिप्पणी 75वें गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में राजभवन में एक कार्यक्रम के दौरान की। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘अगर केंद्र सरकार ने निधि जारी नहीं की तो हम (टीएमसी) बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन शुरू करेंगे।’’

RO 12737/ 72

पश्चिम बंगाल सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, केंद्र पर राज्य का पीएमएवाई के तहत 9,330 करोड़ रुपये, मनरेगा के तहत 6,900 करोड़ रुपये, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत 830 करोड़ रुपये, पीएम ग्राम सड़क योजना के तहत 770 करोड़ रुपये, स्वच्छ भारत मिशन के तहत 350 करोड़ रुपये बकाया है।

मध्याह्न भोजन के तहत 175 करोड़ रुपये के साथ ही अन्य योजनाओं का भी बकाया है। बनर्जी ने 20 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की थी और लंबित केंद्रीय निधि के मुद्दे पर चर्चा की थी। बैठक के बाद बनर्जी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने प्रस्ताव दिया कि राज्य और केंद्र के अधिकारी एक साथ बैठ कर मुद्दों को सुलझा सकते हैं।

Share with your Friends

Related Articles

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More