Home » आज से कोरोना पर वैक्सीन का वार, अस्पतालों में उत्सव जैसा नजारा

आज से कोरोना पर वैक्सीन का वार, अस्पतालों में उत्सव जैसा नजारा

by admin

नई दिल्ली | भारत में आज दुनिया की अब तक की सबसे बड़ी वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू होने जा रही है. अब से कुछ ही घंटों बाद पीएम मोदी कोरोना वैक्सीनेशन ड्राइव का शुभारंभ करने वाले हैं. इस टीकाकरण अभियान के लिए सभी जरूरी तैयारियां कर ली गई हैं. सुबह 10:30 के बाद से देश में कोरोना की वैक्सीन लगनी शुरू हो जाएगी. इस अभियान के साथ ही पीएम मोदी CoWIN ऐप भी लॉन्च करेंगे.
पुणे जिला अस्पताल में उत्सव जैसा माहौल है. दिवाली, दशहरा की तरह टीकाकरण अभियान से पहले रंगोली बनाई जा रही है. वैक्सीन देने की तैयारियां पूरी हो गई हैं. अस्पतालों में टीकाकरण अभियान शुरू करने के लिए वैक्सीन आ गई है. स्वास्थ्य कर्मियों में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है.
हैदराबाद के नामपल्ली में कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरुआत को लेकर इलाके के अस्पतालों को फूल और बैलून से सजाया गया है.
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन लगवाने को लेकर होड़ मचाने की जरूरत नहीं है, सभी लोगों को उनकी प्राथमिकताओं के आधार पर वैक्सीन दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि भारतीय वैक्सीन सुरक्षित और बेहद प्रभावी है. वहीं खुद को टीका लगवाने को लेकर कहा कि जब उनका नंबर आएगा तभी वो टीका लगवाएंगे.
राज्य को कोविशील्ड वैक्सीन की 9.63 लाख खुराक और कोवैक्सीन की 20,000 खुराकें मिली हैं जो सभी जिलों में वितरित की गई हैं. आज राज्य में 285 केंद्र में से छह स्थानों पर कोवैक्सीन दी जाएगी. इसमें 4 मेडिकल कॉलेज (मुंबई, औरंगाबाद, सोलापुर और नागपुर) और 2 जिला अस्पताल (पुणे और अमरावती) शामिल हैं. आज से प्रतिदिन सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक टीकाकरण किया जाएगा.
एक टीकाकरण केंद्र पर टीकाकरण के लिए 5 लोगों की एक टीम तैनात की गई है. इस बीच प्रधानमंत्री टीकाकरण के शुभारंभ के अवसर पर देश के अन्य राज्यों की तरह, महाराष्ट्र के कूपर अस्पताल, मुंबई और जालना जिला अस्पतालों में टीकाकरण सत्र की जानकारी लेंगे. दोनों स्थानों पर टेलीविजन संचार प्रणाली स्थापित की गई है. प्रधानमंत्री के हाथों सुबह होने वाले शुभारंभ के वक्त राज्य के सभी 285 केंद्रों पर वेबकास्ट की व्यवस्था की गई है.
देश में आज से कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरूआत हो रही है. केंद्र सरकार के निर्देशों के अनुसार 285 केंद्रों पर तैयारी पूरी कर ली गई है. आज राज्य के 28,500 स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना महामारी से सुरक्षा मिलेगी. प्रत्येक केंद्र पर 100 टीका लगाने की योजना है. जिन लोगों को टीका लगाया जाएगा, उन्हें टीकाकरण का संदेश भेजा जा चुका है. एसएमएस के जरिये इन सभी स्वास्थ्य कर्मियों को जानकारी दी गई है कि कितने बजे, किस केंद्र पर, किस कंपनी का टीका दिया जाएगा. ये जानकारी पुणे स्वास्थ्य डिवीजन के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. संजय देशमुख ने आजतक को दी है.
देश भर में टीकाकरण अभियान के शुभारंभ के साथ ही आज गौतम बुद्ध नगर के सांसद और पूर्व मंत्री डॉ. महेश शर्मा पहले ऐसे जनप्रतिनिधि होंगे जो इस अभियान के तहत कोविड का टीका लगवाएंगे. हालांकि डॉ शर्मा एक डॉक्टर यानी कोरोना वॉरियर के तौर पर टीका लगवाएंगे. क्योंकि पहले चरण में सिर्फ अग्रिम पंक्ति के कोरोना वॉरियर्स को ही टीका लगाया जा रहा है. शनिवार सुबह साढ़े दस बजे नोएडा के कैलाश अस्पताल में बनाए गए टीकाकरण केंद्र में सारे स्टाफ और अन्य लोग उपस्थित होंगे. उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वर्चुअल संबोधन होगा. पीएम का संबोधन सुनने के बाद 11 बजे डॉ शर्मा सबसे पहले टीका लगवाएंगे.
केंद्र सरकार की ओर से जारी निर्देश के मुताबिक, वैक्सीन केवल 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए है. दूसरी खुराक उसी वैक्सीन की होनी चाहिए जिसमें पहली डोज ली गई थी यानी कि वैक्सीन के इंटरचेंजिंग की अनुमति नहीं है. साथ ही वैक्सीन की जिम्मेदारी संभाल रहे लोगों को 14 दिन के अंतराल से अलग किया जाना चाहिए.
COVID-19 महामारी, वैक्सीन रोलआउट और Co-WIN सॉफ़्टवेयर से संबंधित सवालों के लिए एक 24×7 कॉल सेंटर- 1075 भी स्थापित किया गया है.
टीकाकारण अभियान के पहले दिन करीब 3 लाख हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन दी जाएगी. यानी कि पहले दिन सभी सेंटर्स पर 100 लाभार्थियों को टीका लगाया जाएगा. टीकाकारण का समय सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक है.
पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे. जिसके बाद पीएम मोदी वैक्सीन लगाने वाले हेल्थ वर्कर्स से बातचीत भी करेंगे. इस बातचीत को देश के 3006 वैक्सीन सेंटर पर लोग देख सकते हैं.

RO 12737/ 72
Share with your Friends

Related Articles

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More